पाकिस्तान फैशन वीक है जी

आज हफिंगटन पोस्ट में पिछले नवंबर में हुए पाकिस्तान फैशन वीक से यह तस्वीर छपी है। पोस्ट नें लेख का शीर्षक दिया है “वाट द….?”। सच है, तस्वीर अपनी कहानी खुद कहती है, शब्दों की अधिक आवश्यकता नहीं है। मेरा बस यह कहना है… यह फैशन वीक है, या फैशन वीक है?

यह किस फिल्म का गाना है

यह गीत किस फिल्म का है? बोल कुछ इस प्रकार हैं गली गली में रामा चर्चा हुआ है शोर मचा है रामा शोर मचा है गाँव में इक छोरी सोलह की हुई है रूप से गोरी बड़ी बला की मुई है

अनूप “डॉग” देसाई

यूँ तो मैं नियमित रूप से अमेरिकन आइडल नहीं देखता पर भारतीय मूल के अनूप देसाई के कारण इस वर्ष रुचि बनी हुई है। पिछले सप्ताह जब उसे टॉप-12 में जगह नहीं मिली, तो मैं ने टीवी बन्द कर दिया। बाद में मालूम हुआ कि कुछ ही क्षणों बाद जजों ने टॉप-12 के स्थान पर […]

स्लम-डॉग मिलियनेयर – एक समीक्षा

मुंबई के स्लम-जीवन पर केन्द्रित स्लमडॉग मिलियनेयर देखकर हॉल से निकलने के बाद अनुभूतियाँ मिश्रित थीं। फिल्म में मुंबई के झोपटपट्टी जीवन की जो छवि दिखाई गई है, उसे देख कर काफी बेचैनी लगी। अमरीकी सिनेदर्शकों से भरे हॉल में ऐसा लगा जैसे हमें पश्चिम वालों के सामने नंगा किया जा रहा है। फिल्म के […]

मुक्का बला मुक्का बला

प्रभु देवा के डान्स वाला गाना तो आप ने देखा सुना ही होगा, “मुकाबला मुकाबला”। उस का तमिल वर्जन भी शायद सुना होगा। पर तमिल का अंग्रेज़ी वर्जन नहीं सुना होगा। देखने-सुनने लायक है, पेश है :