420 million pound fraudआज बीबीसी की वेबसाइट पर समाचार देखा कि स्पेन की पुलिस ने धोखेबाज़ों के एक गिरोह को 420 मिलियन पाउंड की धोखाधड़ी के लिए गिरफ्तार किया है। यूँ तो इस धनराशि को डॉलर, यूरो आदि में परिवर्तित किया जाए तो कुछ और ही अंक सामने आएँगे, पर फिर भी 420 अंक के संयोग को अनदेखा नहीं किया जा सकता। गूगल भैया की सहायता से 420 के महत्व को जानने की कोशिश की गई। देस में तो चार-सौ-बीसी या फोर-ट्वेंटी धोखाधड़ी की पर्याय है, पर पश्चिम में यह अंक सुनने को नहीं मिलता। खोज करने पर पता चला कि यदि मैं ने अमरीका में 420 अंक का प्रयोग नहीं सुना तो उस का कारण यह है कि मेरी सही लोगों से (या ग़लत लोगों से?) दोस्ती नहीं है। मालूम हुआ कि यहाँ भी 420 का अर्थ कुछ अच्छा नहीं है। इस का इस्तेमाल गाँजे (मेरियुआना) का नशा करने वालों द्वारा प्रयोग किया जाता है।

भारतीय उपमहाद्वीप में 420 अंक का प्रचलन इसलिए हुआ है कि डेढ़ सौ साल पुराने भारतीय दंड संहिता (इंडियन पेनल कोड) की धारा 420 का संबन्ध धोखाधड़ी से है। विकिपीडिया के अनुसार पाकिस्तान, बांगलादेश, अफ़ग़ानिस्तान में भी इसी धारा का प्रयोग होता है, और इसी शब्दावली का भी। म्यांमार में भी कभी दफ़ा चार सौ बीस का प्रयोग होता था, और वहाँ भी 420 का यही अर्थ है। नाइजीरिया से आप को अमीर बनाने के ईमेल भेजने वाले लोग हम से भले ही इक्कीस हों, पर उन के यहाँ संबन्धित धारा का अंक है चार सौ उन्नीस।

इसी अंक से प्रेरित थी 1955 में बनी मशहूर हिन्दी फिल्म श्री 420। उस से भी पहले 1937 में बनी थी मिस्टर 420, और इस के बाद 1998 में चाची 420। पाकिस्तान कहाँ पीछे रहने वाला था, सुना है उन्हों ने भी 1992 में मिस्टर 420 बना ही डाली।

अमरीका में 420 “शब्द” डेढ़ सौ साल पुराना नहीं है। इस की शुरुआत तब हुई जब 1971 में सैन रफायल कैलिफोर्निया के सैन रफायल हाई स्कूल में छात्र छात्राओं ने स्कूल के बाद 4 बज कर बीस मिनट का समय निश्चित किया नियमित रूप से गाँजा (मेरियुआना) पीने के लिए इकट्ठे होने का। यूँ तो स्कूल आम तौर पर दो बजे छूटता है, पर वह समय था डिटेन्शन के बाद स्कूल से छूटने का। डिटेन्शन यानी यदि आप स्कूल में किसी भी प्रकार की अनुशासनहीनता करते हैं, तो आप को सज़ा डिटेन्शन के रूप में मिलती है — यानी आप को स्कूल का समय समाप्त होने के बाद स्कूल में घंटा-दो घंटा अतिरिक्त रुकना पड़ता है। अब यह सब बच्चे तो डिटेन्शन के बाद ही स्कूल से छूट सकते थे न? इसलिए सब की सुविधा के लिए समय रखा गया 4:20 का, और यही बना अमरीका के चार-सौ-बीस का मूल।

उस के बाद नशा करने वालों में “420” एक आपसी मेलजोल का पर्याय बन गया। इस के साथ एक और शब्द युग्म प्रचलित हुआ है – “420-फ़्रेंडली” यानी यदि आप किराये पर मकान दे रहे हैं, या खोज रहे हैं, तो आप पेट (pet)-फ्रेंडली (जहाँ कुत्ता बिल्ली आप के साथ रह सकते हैं), स्मोक फ्रेंडली (जहाँ आप सिगरेट पी सकते हैं), 420 फ्रेंडली (जहाँ आप गाँजे का सेवन कर सकते हैं) मकान का इश्तेहार दे सकते हैं। कुछ साइटें हैं जो ऐसे ही लोगों को मिलाती हैं, जैसे कि 420 सिंगल्स। एक यह साइट देखिए कान्सेप्ट 420, जिस पर गाँजे से संबन्धित सभी बातों पर आप जानकारी खोज सकते हैं।

concept420.com

अमरीका में केन्द्रीय सरकार ने मेरियुआना के सेवन और बिक्री पर रोक लगा रखी है, पर कुछ राज्यों में इस विषय में ढ़ील बरती जाती है। कुछ लोग इस के औषधिक गुणों के गुण गाते हैं, तो कुछ इस को धार्मिक अथवा पारंपरिक प्रथाओं के लिए आवश्यक मानते हैं। यहाँ पर कुछ ऐसी संस्थाएँ हैं, जो मेरियुआना संबन्धित कानूनों में सुधार (यानी ढ़िलाई) के लिए कार्यरत हैं। ऐसे ही एक संगठन “नैश्नल ऑर्गनाइज़ेशन फ़ॉर द रिफ़ार्म ऑफ मेरियुआना लॉज़” की इस साइट पर देखिए आप को हर राज्य के मेरियुआना संबन्धित कानूनों की जानकारी मिलेगी — यानी किस राज्य में कितना गाँजा पीने से या कितना बेचने से आप को कितनी सज़ा मिलेगी। अफ़वाहों का पर्दाफाश करने वाली साइट “स्नोप्स” के इस पृष्ठ पर देखिए कि 420 शब्द की उत्पत्ति का सही कारण क्या है, और अफ़वाही कारण कौन कौन से हैं।

भारत में हिन्दुओं की प्रथाओं में भी चरस, गांजे, भांग के प्रयोग के अनगिनत उदाहरण हैं। विकिपीडिया के इस पृष्ठ पर देखिए धर्म की आड़ में लोग किस तरह नशीले पदार्थों का प्रयोग करते हैं।

टिप्पणी कर के बताएँ कि आप कौन से चार सौ बीस हैं — देसी या परदेसी? कुछ नहीं तो होली पर तो भांग पी ही होगी?

Tags: ,

1 Comment on चक्कर चार सौ बीस का

  1. आशीष says:

    ४२० मेरे साथ भी जुड़ा हुआ है ! १२ वी मे मुझे ४२० अंक मिले थे!

    मेरी बाईक का नम्बर भी TN 07 A1420 है। आजकल सीडनी मे हूं और मोबाईल नम्बर भी ०४२० से शुरू हुआ है !

Leave a Reply