एक नास्तिक हिन्दू

(Update: यह लेख 14 अप्रैल 2006 को अनुगूंज शृंखला के अन्तर्गत लिखा गया था। इस शृंखला में सभी चिट्ठाकार एक ही विषय पर लेख लिखते थे। इस लेख में दी गई कई कड़ियाँ अब काम नहीं कर रही हैं।) बहुत ही टेढ़ा विषय दिया है

गूगल कैलेंडर

आ गया, आ गया, जिस का इन्तज़ार था। याहू में काफी पहले से कैलेंडर था, बाद में MSN ने भी जोड़ दिया था। पर जब से हम ने याहू और MSN में खोजना बन्द कर दिया था, और माइ-याहू और माइ-MSN पर नियमित रूप से जाना छोड़ दिया था तब से गूगल में कैलेंडर की […]