चिट्ठाकार बन्धुओ, अपनी क्वर्टियों पर धार लगा लो — आप का अपना “इंडिक ब्लॉगर अवार्ड्स” आ रहा है। क्वर्टी…? वह क्या होती है? QWERTY, बुद्धू … यानी कीबोर्ड — अब कलम पर धार लगाने को तो कहेंगे नहीं। कलम की जगह कीबोर्ड ने ले ली है, इसलिए कहा गया है “Qwerty is mightier than the sword.” वैसे यदि अंग्रेज़ी कीबोर्ड को क्वर्टी कहते हैं, तो हिन्दी कीबोर्ड को क्या कहेंगे? इन्स्क्रिप्ट को “औऐआईऊ” कह सकते हैं :-)। खैर मैं तो क्वर्टी ही प्रयोग करता हूँ, मुझे तो अपना यूनिनागरी ही आसान लगता है।

तो मैं बात कर रहा था, देसी भाषाओं के लिए “इंडिक ब्लॉगर अवार्ड्स” की जिसे अपने देसी बिल्लू भैया आयोजित करने जा रहे हैं बहुत जल्द। अभी ज़्यादा विवरण उपलब्ध नहीं है, प्रारंभिक घोषणा यहाँ देखें। ११ भारतीय भाषाओं में ८ श्रेणियों में मसौदे, भाषा और सृजनात्मकता में उत्तमता के आधार पर यह पुरस्कार दिए जाएँगे। भारतीय भाषाओं में चिट्ठाकारी के लिए यह बहुत बड़ा कदम है।

तब तक अपने चुस्त, कर्मठ बन्धु इंडीब्लॉगीज़ पर भी हाथ साफ करने की कोशिश करें। वहाँ भी नामांकन की उद्घोषणा जल्द होने वाली है। हम आलसियों की बात छोड़ें, हम तो यदा कदा ही अपनी क्वर्टी की धूल झाड़ते हैं।

4 Comments on इंडिक ब्लॉगर अवार्ड्स

  1. debashish says:

    Very good news indeed for Indic bloggers! Wondering if the Indibloggies gave them the idea 😉

  2. रवि says:

    हाँ, पर जब झाड़ते हैं अच्छे अच्छों की और तमाम आसपास की !

    हे हे हे…

  3. Jitu says:

    बहुत अच्छा अवसर है, माइक्रोसाफ़्ट इस प्रतियोगिता को गली गली मे पहुँचाने मे कोई कोर कसर नही उठा छोड़ेगा। हमे चाहिये कि ज्यादा से ज्यादा नामांकन हो, ताकि हिन्दी चिट्ठाकारी भी जन जन की आवाज बने।

    मेरा जहाँ तक विचार है कि इस तरह की प्रतियोगिता को मीडिया मे भी अच्छी पब्लिसिटी मिलेगी और साथ ही हिन्दी ब्लॉगिंग की तरफ़ बहुत से लोग आकर्षित होंगे। तो बन्धुवर, शुरु हो जाओ।

  4. raman says:

    he dude!!!
    good job indeed but can you tell me how to type n hindi?? do I need a different keyboard?

Leave a Reply