आशा ही जीवन है – नवीं अनुगूँज

मैं एक इनक्युअरेब्ल ऑपटिमिस्ट हूँ, यानी लाइलाज आशावादी। मैं इस बात में सौ प्रतिशत विश्वास करता हूँ कि आशा ही जीवन है। ज़िन्दगी में कुछ भी गुज़र जाए, मैं हमेशा यही मानता हूँ कि शायद इस से बुरा भी हो सकता था, और जो मेरे साथ हो रहा है, हज़ारों-लाखों लोगों के साथ रोज़ इस […]

नव वर्ष 2062 की शुभकामनाएँ यानी नवरेह मुबारक

यदि आप थोड़े से मेरे जैसे हैं तो ज़रूर आपने ३१ दिसम्बर को कुछ वायदे किए होंगे अपने साथ – हफ्ते में पाँच दिन व्यायाम करना, कम से कम हर दूसरे दिन ब्लॉग लिखना, हर जगह देर से पहुँचने की आदत छोड़ देना, वग़ैरा वग़ैरा। और अगर आप थोड़े से और मेरे जैसे हैं, तो […]

मुशर्रफ के ख़िलाफ मुहिम

रोजनामचा पर मुशर्रफ की भारत की क्रिकेट यात्रा के बारे में पढ़ा, और साथ ही सूचना दी उन्होंने ब्लागजगत की उन के खिलाफ मुहिम के बारे में। अँग्रेज़ी ब्लॉग जगत के नामी गिरामी चिट्ठाकार इस मुहिम में शामिल हो गए हैं, हिन्दी वालों ने भी खाता खोल लिया है, तो मैं ने सोचा बैनर को […]

कंप्यूटर पर गुरबानी

कल शनिवार को मेरे मित्र के पिता जी का सत्तरवाँ जन्मदिन था। इस अवसर पर उन के परिवार वालों ने उन के लिए एक “सरप्राइज़” जन्मदिन समारोह का प्रबन्ध किया था। सरप्राइज़ जन्मदिन पार्टियाँ तो आजकल इतनी आम हो गई हैं कि अब उन को सरप्राइज़ रखना मुश्किल हो जाता है। यानी, यदि हर साल […]